Friday, 7 February 2020

सच्चर कमेटी की रिपोर्ट को झुठलाकर, जिसने मुसल्बानों की माली हालत काफी खस्ता व इसको उन्नत बनाने की पहल की गुजारिश की थी . लकिन शाहीन बाग़ के इस प्रायोजित आन्दोलन ने मुसल्बानों को एक प्रबुध्ह वर्ग की महिलाएं दिखाने के जलवे का खेल, प्रति ८ घंटे की शिफ्ट में ५००-७०० रुपये व मुफ्त में बिरयानी व शुद्ध पानी की बोतलों से १२० करोड़ से ज्यादा रूपये खर्च कर ५० से अधिक दिनों से यह खेल खेला जा रहा है जिसमें दुधमुन्हे बच्चों से नन्हे मुन्ने बच्चों को इस आग में झोंककर, ढाल के रूप में प्रयोग कर वोट बैंक की पूरियां तली जा रही है




सच्चर कमेटी की रिपोर्ट को झुठलाकर, जिसने  मुसल्बानों की माली हालत काफी खस्ता व इसको उन्नत बनाने की पहल की गुजारिश की थी  .

लकिन शाहीन बाग़ के इस प्रायोजित आन्दोलन ने मुसल्बानों को एक प्रबुध्ह वर्ग की महिलाएं दिखाने के जलवे का खेल, प्रति ८ घंटे की शिफ्ट में ५००-७०० रुपये व मुफ्त में बिरयानी व शुद्ध पानी की बोतलों से १२० करोड़ से ज्यादा रूपये खर्च कर ५० से अधिक दिनों से यह खेल  खेला जा रहा है जिसमें दुधमुन्हे बच्चों से नन्हे मुन्ने बच्चों को इस आग में झोंककर, ढाल के रूप में प्रयोग कर वोट बैंक की पूरियां तली जा रही है.

इस छद्म खेल में देश में लोकतंत्र की कमर तोड़ने व देश को  तुकडे करने का नारा देकर एक साजिस के तहत विश्व में देश के संविधान की खिल्ली उड़ाने से विपक्ष अपने पक्ष में वोट  बैंक का येन केन प्रकारेण अपना कुत्सित प्रयास कर रहा है

अपनी कमजोरियां छुपाने के लिए ४ माह के नवजात मासूम की इस आन्दोलन में ठण्ड से ह्त्या कर उसे “शहीद” कहकर सत्ता का “शहद” बनाने के खेल से देश से खिलवाड़ कर रहा है.
याद रहें, हिन्दुस्तान के इतिहास में आज तक किसी भी आन्दोलन में महिलाओं को ढाल बनाकर आन्दोलन नहीं किया है लेकिन शाहीन बाग़ में इस बार पुरूषों ने अपनी पौरूषता खोकर अपनी नपुंसकता का प्रमाण देकर, अब तो संविधान को झूठलाया जा रहा है  


फेस बुक व वेबस्थल की २, मई , २०१४ की पुरानीpost
१ जरूर पूरा पढ़े..,नो हिन्दू नो मुस्लिम वी आर हिन्दुस्तानी फर्स्ट ..

धर्म के नाम से वोट बैंक की आड़ से हर देशवासी frustrated /निराश. विफल किया गया है...इसी वजह से देश हर साल फिसल कर ,देशी विदेशी माफियाओं की लूट से बिक कर डूबने की कगार में है...


मेरे ब्रदरहुड, व हिन्दू ,सिख ,इसाई दोस्तो, राष्ट्रवादी हिन्दु,मुस्लिम व अन्य धर्मो के लोगो को मेरा सलाम,नमस्कार, सतश्रीकाल ....



२ क्या आपको मालूम है..?? ""सारे ज़हा से अच्छा  हिन्दोस्ता हमारा,,, के कवि इकबाल भी पाकिस्तान बनाने के पक्ष मे थे...??? 1943 मे उनकी मृत्यु हुई,

राष्ट्रवादी का अर्थ की परिभाषा .... , जब मुहम्मद करीम छागला , १९७७ में जनता पार्टी मे मानव संसाधन मंत्री थे, तब उन्होने अलीगढ मुस्लिम युनीवर्सीटी मे हिंन्दु कुलपति व बनारस हिन्दु युनीवर्सीटी मे मुस्लिम कुलपति नियुक्त किया था, है...!!!, आज कोई  माई का लाल....!!!!!!!!!!!,

इस राजनिती मे इस तरह का साहस करने वाला, मुहम्मद करीम छागला जो जिन्ना का दायाँ हाथ था, पाकिस्ताने के विरोध के साथ वह जिन्ना का दुश्मन बन गया, मुहम्मद करीम छागला हमेशा मुस्लिमो से कहते थे , तुम पहले हिन्दुस्तानी हो, बाद मे मुसलबान, हिन्दुओ का खुन आप मे है, इसलिए सभी धर्मो से भाई चारा रखो, राजनेताओ की कठपुतली मत बनों...?? उन्होने बोम्बे हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस रहते हुए, हर धर्म के लोगों को समान निर्णय दिया, यहँ तक की जवाहरलाल नेहरू की भी भ्रष्टाचार की पैंट खोल दी थी, बिना राजनैतिक दबाव से....जय हिंद...

३ आज देश को बग्लादेशीयो ने घुसपैठ के नाम से देश को बरबाद कर दिया है, इसमे मुस्लिमो के हक के साथ हिन्दुओ का भी हक छीना है...??? यह जरूर याद रखें ...., वोट बैक के आड मे दोनो कौमे गरीब हो रही है,,,

४ यह देश का इतिहास कहता , खास कर 1947 के बाद से. दंगे राजनेताओ को भाँग देता है, वह सत्ता के नशे मे चूर रहता है, और जनता आपस मे धर्म के लडाई मे मारी जाती है,मुजफ्फरपुर से हर दंगे सत्ताखोरों के लिए वोट बैंक से सत्ता का बना मौजपुर नगर

५ आज देश आम आदमी के हाथों से चलना चाहिए, लेकिन सत्ताधारिओं की गाडी “आम आदमी” के नारो से चल रही है, आम आदमी की मेहनत को नारो मे बदलकर देश के भष्टाचारिओं की गाडी चल रही है? सत्ता के पकड के लिये सत्ताधारी एक दूसरे कि कमजोरी की पोल का फायदा उठाते हुए सत्ता मे रहकर लूट मार मे व्यस्त है?

६ आज इस देश मे देशद्रोही कौन ? आत्महत्या करने वाला गरीब अन्नदाता किसान, देश के गर्व के लिये सीमा पर सिर कटाने वाला जवान,अपने शोषण का विरोध करने वाला आम आदमी, भूमि अधिग्रहण का मोहरा बनने वाला,अनगिनत टैक्स का बोझ उठाने वाला,वायु प्रदूषण, गन्दे पानी पीने वाला...विकास के हत्यार, महँगाई से तडफनेवाला और वह शोषण का प्रतीक,गुलामो की तरह जीवन जीने वाला.......एक सरल इन्सान..?? 


आज इस देश मे देशप्रेमी कौन ? देश के संसाधनो पर अपना अधिकार समझकर, उसकी लूट कर, देश में अकूत सम्पति रखने वाले, विदेशी बैको मे काला धन रखने वाले, नकली दवायें, मिलावटी खाना,गलत इलाज,किसानो का शोषण,जनता की स्वास्थय व विकास की योजनाओ का धन डकारने वाले,कानून को झुकाने वाले, अलगाववाद, भाषावाद,जातिवाद से लडाने वाले, भ्रष्टाचार को अपना देवता मानने वाले.... आज देश के नेता व दबंग भेडियें, देश प्रेमी का चोला पहनकर देश को लूट रहे है? इसलिये मै भी इसी प्रतिरोध के लिये देशद्रोही बनकर लड रहा हूँ?

७ आज के ,माफियाओं के भ्रष्टाचार का रॉकेट का प्रक्षेपण इतना अचूक है कि, आज तक इनका एक भी रॉकेट फेल नही हुआ है....???, जबकि , श्रीहरीकोटा व देश के अन्य भागो से इसरो के रॉकेट कभी कभार फेल होते रहे है, इससे यह संदेश के साथ दर्शाता है, कि, भ्रष्टाचारी माफिया के रॉकेट, एक-एक नए प्रयोग व भ्रष्टाचार के अनुसंधान से, इसरो के रॉकेट से भी.... और उन्नत बनाकर देशवासियों की कमाई , इस रॉकेट के ईंधन मे फूंक- फूंक कर उड़ाई जा रही है
बीएसपी सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने संसद में वन्देमातरम का अपमान किया और जैसे ही राष्ट्रगीत की धुन बजी सांसद बर्क संसद भवन से उठकर बाहर निकल गये, what is YOUR opinion on this subject

८ देश के सत्ता के घोटालेबाजों को देश को लूटने से फुर्सत नही है, जब देश मे लूट मे छूट है तो अपने लूट का समय,बर्बाद कर ..., क्या..?????, वे तुम्हारी समस्या को देखेंगे..उन्हें पता है हमारे माफिया राज के सामने संविधान भी पंगु है..


- भ्रष्टाचारीयों के महाकुंभ की महान-डायरी.
About
Let's not make a party but become part of the country. I'm made for the country and will not let the soil of the country be sold.
Description
आओं, पार्टी नहीं देश का पार्ट बने, “मैं देश के लिए बना हूँ””, देश की माटी बिकने नहीं दूंगा , “राष्ट्रवाद की खादसे भारतमाता के वैभव से, हम देश को गौरव से भव्यशाली बनाएं



No comments:

Post a comment