Videos

Loading...

Thursday, 16 April 2015

महान राष्ट्रवादी, भौतिक शास्त्र के नोबल पुरूस्कार व भारत रत्न से सम्मानित वैज्ञानिक चंद्रशेखर रमण के, इसी “RAMAN EFFECT” के भौतिक मंत्र से ही तो, चीन आज सुपर ड्रैगन बना है.

बापू के तीन बंदर, अब बन गये है मस्त कलन्दर http://meradeshdoooba.com


देखू: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आज कनाडा के अपने अंतिम पडाव में “मेक इन इंडिया” मुहीम में कनाडा में है..,  जिन्होंने, अपने  तेजस्वी भाषण से विश्व में एक छाप छोड़ दी है.., दे दना-दन के गोलों से ३० समझौते कर रहें हैं..लेकिन देश के बचे, नेता अब भी, माफिया- कॉर्पोरेट-नौकरशाही से तानाशाही के बल से  देश में सड़क छाप कार्यों से नोट छाप रहें है.
सुनू : मोदी, एक तरफ तो “मेक इन इंडिया” का दंभ भर रहें हैं.., दुसरी तरफ कांग्रेस की कटोरा नीती से, दनादन गोलों की आड़ में  धन की भी मांग कर रहें हैं. और विदेशी भारतीयों से अपनी जयजयकार  करवा रहें है.
बोलू: एक चीज मैं कहना चाहता हूं, देश के गरीबों में हाथी बल है.., जैसे हाथी की आँखे अन्दर होने से वह अपने शरीर को नहीं देख सकता है , इसी से मानव ने उसके भीमकायी बल को गुलाम बनाकर, अपने स्वार्थ की पूर्ति  हजारों सालों से की है.
देखू: मैं भी देख रहा हूं , जनता ने, देश के इतिहास से सबक न लेते हुए , देश के राजाओं से आज तक के नेताओं ने, “महावत” बनकर, जातिवाद,भाषावाद, अलगाववाद के अंकुश से  टोंच  कर..,  इस हाथी रूपी जनता को टॉर्चर कर घायल से, बदहाल कर दिया है. , और देशी विदेशी बैंकों, माफियाओं  ने भी अपनी तोजोरी भर , कर्ज से देश को गर्त में डालकर डूबों दिया है
सूनू:  अमीर मीडिया लोमड़ी भी विदेशी सुरों से इस हाथी को मारने में  उतारू है.., इनका मांस निकालकर, हाथी दांत व खालों से  अपने महलों को बनाकर चमका रहें है.
देखू:  हां , २० साल पहिले तक ये लोमड़िया भूखी थी, और जनता आज से ज्यादा सुखी थी
सुनू:  जनता भी कह रही है.., “अच्छे दिनों” के अफीमी नारों के बावूद बावजूद, पुराने माफियाओं के वजूद से महंगाई और बढ़कर अब हमारे  कच्छे पहनने के दिन आने वाले हैं...
देखू: जनता अब भी मोदी की भावी नीती की कल्पना का इन्तजार कर रही है.., लेकिन इसमें उन्हें मीडिया -माफिया- कॉर्पोरेट-नौकरशाही की फिर से मिलीभगत की, घोटालों की “बू”  आ रही है..,
सूनू: देश में महंगाई से त्राही-त्राही मची है.., जनता चिंतित है कि हमारे भविष्य में क्या अंजाम होगा .., किसानों की आत्मह्त्या रूक नहीं रही है..
बोलू: मैं, महान राष्ट्रवादी, भौतिक शास्त्र के  नोबल पुरूस्कार व भारत रत्न से सम्मानित वैज्ञानिक चंद्रशेखर वेंकट रमण  की यह उक्ति को  नेताओं से  कहना चाहता हूं , कि विदेशी चीजें खरीदना अर्थात अपनी मूर्खता खरीदना, आगे बढ़ना है तो विदेशों से तकनीकी  खरीदकर, उसे अपनी देशी प्रतिभा से और  उन्नत बनाकर  ,राष्ट्र को उन्नत बनाओ , इसी “RAMAN EFFECT” के भौतिक  मंत्र से ही , तो, चीन आज सुपर ड्रैगन बना है.
देखू: आज देश के महावतों..,  जो देश की लूट कर,  देश की आर्थिक वयस्था व्यवस्था को नियंत्रित, अंकुश से,  दवा करने  का दावा कर, अपने दानवी रूप से गरीबों की मेहनत लूट कर, देशवासियों के सपने चकनाचूर कर रहें है..., डॉलर भी ऊंचाई पर पहुँच कर देश की जमीनी जनता की कॉलर खेच रहा है..,
यदि, मोदी सरकार इनकी संपत्ती जब्त करें.., जो विदेशों में जमा काले धन से सैकड़ो गुना ज्यादा है.. तो, हमें विदेशियों के कटोरों की जरूरत नहीं पड़ेगी , और  इस धन को गरीबों के हाथी बल से एक स्वस्थ देश के साथ, ४ सालों में विश्व गुरू बन जाएगा

बोलू:  मोदी सरकार, ऐसा करेंगे तो जनता भी देश के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की तरह  उन्हें भी  सर –आँखों पर बिठाकर..., जय जवान –जय किसान –जय विज्ञान से देश सार्थक हो जाएगा.., हमारे ६८ सालों की गरीबी के, खून पीने वाले “खटमली कीड़े’ मर जायेंगे..