Thursday, 4 July 2013


यह मेरा देश है.. जहाँ गरीबो की प्रतिभाए ... प्रतिमाए बनकर दम तोड देती है...??? 
जहाँ राख तले चिंगारी को ... भ्रष्टाचार के समुन्द्र मे डूबो दी जाती है.. ..??

जहाँ क्रिकेट के राष्ट्रीय शर्म को राष्ट्रीय को धर्म के नाम से पुकारा जाता है... राष्ट्रीय भगवान सचिन, उप भगवान धोनी.. विदेशी उत्पाद (दुकानदार की तरह) बेचकर... तिरूपति भगवान की तरह विदेशी उत्पादक मोटी रकम का चढावा दे रहे है... पेड मीडिया , पेट मीडिया... , कठपुतलिया बनकर अपने को राष्टीय भगबान का दूत समझती है...चढावा न मिलने पर वह ब्लेक मेल कराकर ,अपने को लोकतंत्र चौथा खम्भा कहने वाली पेट मीडिया, अपने को 420 वा खम्भा बनाकर ,भ्रष्टाचारी भगवान को भी अर्श से फर्श मे पटकने का दावा करती है... इनकी रिश्वत की गाडी बुलेट ब्लेक मेल ट्रेन बन गयी है.., इनकी इंडिया की बुलेट ब्लेक मेल ट्रेन आज भी दुनिया मे नम्बर 1 है. 

देश की जनता तीन भागो मे बँटी है.....
1. इंडिया - अकूत धन से चमकने वालो के लिये...इंडिया?. यो कहे शाईनिंग इंडिया.
2. भारत –जो, इन चमकने वालो के पिछलग्गू , इनके गलत कामों के सह्भागिता मे भी शामिल होने वालो लोगो के लिये भारत?...... और इंडियन बनने की होड मे दौड रहे है? (भार-रत)
3 हिन्दुस्थान- मेहनत कर भूखमरी की कगार पर पहुचने व आत्महत्या करने वालों के लिये हिन्दुस्थान...? इसमे देश का अन्न्दाता किसान भी है..
यहाँ लोकतंत्र ... लूटतंत्र, ठोकतंत्र, गुंडातंत्र, अलगाववादतंत्र, जाति-धर्मतंत्र, घुसपैठतंत्र आज लोकतंत्र के भगवान बनने का मूलमंत्र है....
जनता जागो...इस (T.R..P) के झाँसे से, तुम्हे रोना पडेगा....