Friday, 1 November 2013

गरीबों का धन तरस , अमीरों का धन बरस की वार्षिक महापूजा,आज तो गरीबों के भूख का निवाला छीनकर , अमीरों के पेट भरने का निवाला दिवस है,


गरीबों का धन तरस , अमीरों का धन बरस की वार्षिक महापूजा,आज तो गरीबों के भूख का निवाला छीनकर , अमीरों के पेट भरने का निवाला दिवस है, हर वर्ष भ्रष्टाचार के, नये-नये रावण, पैदा होकर, अब अपने दस सिरों से ८० करोड़ देशवासियों के निवालों को खा रहे है, P.D.S. (पेट डेवलेपमेंट प्रणाली ) के बाद गरीबों के झोपड़े जलाकर / छीनकर , अपने सोने के महल बना रहें हैं...???, 
हराम भक्त हनुमान के अनुसरण से उनके व समर्थक दल के बंदर , हिन्दुस्तान की वाटिका को , तहस नहस कर, उजाड़कर गरीब जनता को खदेड़कर मौज मस्ती से अपने को रावण राज के निर्माण से, “ भारत निर्माण के नारों सेअरबों रूपये विज्ञापन में खर्च कर .... देश में से दंभ भर रहें है...???
राजनीति में राहुल (RAW + WHOOL=कच्चा झाँसा ) व प्रियंका बनी राजनिती की प्रिय एक्का , ROBERT (ROBEERY EXPERT- दक्ष डकैती ) वाड्रा (WIDE RAJA-चौड़ा राजा ) से लेकर कांग्रेस की वानर सेना से सहयोगी पार्टी के वानरों ने, देश को, कर्ज से उजाड़ दिया है, ताज्जुब तो इस बात का है ...??????, इस देश में दोहरी नागरिकता वाली सोनिया....???????????? , जिसे सोने की चिड़िया बनाकर , विश्व की चौथी अमीर महिला में शुमार किया गया है, और विश्व की पहली महिला शक्ति शाली महिला बन गई है, आज देश का आम आदमी तो दूर की कौड़ी है, विपक्ष का शक्तिशाली नेता भी उनकी बीमारी के खर्च का हिसाब माँगने का भी साहस नहीं कर पाता है ..???
देशवासियों की भी देश के प्रति दरियादिली न होने से, देश के माफियाओं ने, देश की हरयाली उजाड़ दी है..,
देशवासियों जागो , यह खेल तो विदेशी धन के कर्ज से , देशी धन के लूटपाट से . देश कर्ज में डूब गया है, अंतर्राष्टीय वित्त निगरानी संस्था (I.M.F.) ने भी हमें सहायता देने में संकोच कर रही है . वही विश्व बैंक ने भी हाल में बयान दिया , हमारे द्वारा दी गई विकास की वित्त सहायता डकार ली गी है,,,,
आज देश का धन, नये ७ वे वेतन आयोग के नौकरशाहों व विदेशी कर्ज के ब्याज चुकाने में खर्च हो रही है...
इसका निदान के लिए सरकार , देशी व विदेशी माफियाओं के आड़ में प्याज व अन्य फलों की महंगाई से जनता के आँसू के ब्याज से , सत्ताखोर विदेशी कर्ज का भार , वहन कर रहें है ...ऐसा कब तक चलता रहेगा , जागो देशवासियों आपकी की मेहनत तो..., देशी व विदेशी माफिया छीन रहें है..??????????,