Videos

Loading...

Wednesday, 21 March 2018

शाकाहार कोई शक नही । उत्तम रोग मुक्त पोष्टिक भोजन से शरीर ही नही विचार भी ह्रष्टपुष्ट रहता है.., पहलवान संजय सिंह को गोल्डन बुक वर्ल्ड रिकॉर्ड द्वारा 3 श्रेणियों में सर्टिफिकेट..., उत्तर - दक्षिण, पूरब – पश्चिम.., विश्व के कोने – कोने के सरपट्टा में २६८२ V/s संजय सिंग के ४२९५ प्रतुत्तर के कीर्तीमान से देश सिरमौर.., और दुनिया को जता दिया की गौ माता के सत्कार से ही इस भारत मात्रभूमि का चमत्कार ही एकमेव मूल मंत्र.., हिदुत्व की जननी से बहुमुखी गुणों की खान से सनातन धर्म की जान .. गाय इस ब्रम्हांड की २४ घंटों की प्राण वायु उत्सर्जन से बहुजन समाज की रख रखाव की प्राण है..., दोस्तों डूबते देश को ही नहीं ..., इस डूबते विश्व को बचाना है.., तो गाय को बचाना है.., गाय मानव का भोजन नहीं.., गाय का गुणों प्रयोजन से रूबरू होकर .., विश्व शांती से विश्व गुरू का सन्देश देना ही होगा .., https://www.facebook.com/jaygoumata/?hc_ref=ARR4hhyPpkYjOhI8rqMnmkbyj35iSfRF5q3zQBeFOXf066KiTkvp7QT2XDzG1WL1xHY&hc_location=group

शाकाहार कोई शक नही । उत्तम रोग मुक्त पोष्टिक भोजन से शरीर ही नही विचार भी ह्रष्टपुष्ट रहता है..,
पहलवान संजय सिंह को गोल्डन बुक वर्ल्ड रिकॉर्ड द्वारा 3 श्रेणियों में सर्टिफिकेट प्रदान करते #Golden_Book_of_World_Records के अधिकारी..
1 #World_Record 1 घंटे में गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर #Carlton_Williams के 2682 के रिकॉर्ड को तोड़कर नया कीर्तिमान 4295 का नया रिकॉर्ड।
2 #World_Record सबसे तेजी से नया विश्व रिकॉर्ड 2 घंटे 50 मिनट में 10101

3 #World_Record भारतीय सरपट्टा #push_up 1 घण्टे में 1200

4 #World_Record भारतीय सरपट्टा बिना रुके 1 घंटे 16 मिनट में 1501

5.     https://www.facebook.com/jaygoumata/?hc_ref=ARR4hhyPpkYjOhI8rqMnmkbyj35iSfRF5q3zQBeFOXf066KiTkvp7QT2XDzG1WL1xHY&hc_location=group


उत्तर - दक्षिण, पूरब – पश्चिम..,   विश्व के कोने – कोने  के सरपट्टा में २६८२ V/s  संजय सिंग के ४२९५  प्रतुत्तर के  कीर्तीमान से देश सिरमौर.., और दुनिया को जता दिया की गौ माता के सत्कार से  ही इस भारत मात्रभूमि का चमत्कार ही एकमेव मूल मंत्र.., हिदुत्व की जननी से बहुमुखी गुणों की खान से सनातन धर्म की जान ..

गाय इस ब्रम्हांड की २४ घंटों की प्राण वायु उत्सर्जन से बहुजन समाज की रख रखाव की प्राण है...,  
दोस्तों डूबते देश को ही नहीं ..., इस डूबते विश्व को बचाना है.., तो गाय को बचाना है.., गाय मानव का भोजन नहीं.., गाय का गुणों प्रयोजन से रूबरू होकर .., विश्व शांती से विश्व गुरू का सन्देश देना ही होगा .., 


देश रहेगा आभारी..,  जब हर धर्म का नागरिक +ve गौ सेवा से रक्षण कर रहेगा तत्पर.., देश रहेगा विश्व  में सबसे उप्पर.., देश को धन, सुख - शांती मिलेगी छप्पर फाड़ कर...