Videos

Loading...

Friday, 29 June 2018

अरे ओ सांभा , ये छुछुंदर बाबा , २५ रूपये के दिहाड़ी से बाबर्ची फिल्म के रोल में बार-बार जेल से छु.. हो रहा है, अरे ओ “छुछुंदर बाबा” ये रोल मुझे भी देश के “कानूनी माफिया” से मिलता तो शोले फिल्म में मुझे ठाकुर के दोनों हाथ नहीं काटने पड़ते..!!!! ये है मुन्नाभाई M.B.B.S. (महान भारत भ्रष्टतम सेवा ) के पैरोल के बायोपिक रोल की रील ये अश्लील नहीं देश की असली रील है..,)



संजू फिल्म से अब आने वाले दिनों में  सन्नी लियोनी की भी बायोपिक से (ये अश्लील नहीं देश की असली रील है..,) नयी पीढ़ी  को नशा , सेक्स की दुहाई देकर अब और एक नयी  फिल्म को आयाम देकर .., पाश्चात्य संस्कृति के घाल मेल में..,  देश के पाश्चात्य संस्कृति द्वारा थोपा गया ,अंग्रेजों की गुलामों के संविधान से देश के युवाओं  के दिमागों को आज भी गुलामी के दंभ को महान बनाने की दौड़ में ऐसी  फ़िल्में १००.., २००.., ४०० से हजार करोड़ के धंधे से.., देश की अस्मिता के खिलवाड़ से  देश के राष्ट्रवाद को मारने का यह नंगा खेल है...


February 19, 2014 ·के फेस बुक व वेब स्थल की पुरानी पोस्ट  

जरूर पूरा पढ़े., यह पैरोल नहीं, अमीरों का पे- रोल है , मनी मून से कैसे हनी मून बनाया जाता है कैसे क़ानून को थप्पड़ मारा जाता, इसका ज्वलंत उदाहरण है , २५ रूपये का "बावर्ची" अब बना यरवदा जेल का "वर - देवा" खिलाड़ी..., बावर्ची, अब बन गया है जेल अधिकारियों का जेब खर्ची..., जेल में शराब से पैरोल को पेकर क़ानून को भी बनाया बावर्ची.. मनी मून से हनी मून के पेड रोल से क़ानून का बनाया भुरता

संजय दत्त को क़ानून के रक्षकों की संजीवनी ..
याद रहे..., दिल्ली में शीला दीक्षत की विशेष दीक्षा से जेसिका लाल हत्याकांड के अपराधी, मनु शर्मा को पैरोल पर छोड़ा गया था, और वह पब (शराबी जोड़ों का मयखाना) में नशे में धुत्त मिला ....
आज देश में छोटे अपराधी व पाकेटमार , जेल में अपने अपराध से कई गुना ज्यादा की सजा से सड़ रहें है..??, क्योंकि उनके पास जमानत के लिए पैसे नहीं है..

वहीं माफिया संविधानमें माफ़ +किया शब्द से गर्वित है, मेरे वेबस्थल का श्लोगन है.. मेरा संविधान महान..., यहाँ हर माफिया पहलवान “... क़ानून इनकी तेल मालिश कर इन्हें इतना मुस्टंडा बनता है कि ६०० जमानत के बाद भी इनके चेहरों की लाली पर , न्यायाधीश के मुस्कुराते चहरे दिखते है.., बिकते क़ानून दिखाते हैं..