Saturday, 3 December 2016

मोदी की यह लहर राष्ट्रवाद की अनुभूति की लहर है..., मोदी ने देशवासियों को एक बड़ा सन्देश दिया है ..., (मैं) अकेला क्या नहीं कर सकता हूँ ...


मुरादाबाद की जनसभा में मोदीजी का उद्घोष...,  माफिया नेता + जज साही +नौकशाही मुर्दाबाद , देश की ईमानदार जनता के ईमान को जिंदाबाद..., 

मैं एक फ़कीर अब बना रहा हूँ देश की एक नयी  लकीर..., अब मफियाओं को माफ़ करने का तंत्र जो लोकतंत्र के नाम से लूट तंत्र पर काबिज होकर अपने जादुई ताबीज से जनता को चाबुक मारकर.., उनकी जीतेजी जिन्दगी ताबूत बना रहे थे.

अब उनके एक –एक  पाई से उनके जादुई पांव के चिन्हों के सरपटी भ्रष्टाचार के दौड़ के छाप को ५०० और २००० के नोट को छाप कर अपने छप्पन इंच के सीने से , माफियाओं को सोने व अन्य श्रोत के काले धन से अब उनके सुख – चैन से सोने के दिन  लद चुके है .., अब असली जंग नए ३१ दिसंबर के बाद साल २०१८ में आर –पार  की लड़ाई है.., अब अपार काले धन की सफाई है..

फेस बुक व वेबस्थल के Allowed on Timeline April 30, 2014 की मोदी के लोकसभा के चुनावी रण – भेदी प्रचार की प्रेरक सार्थक पोस्ट

मोदी सत्ता के लिए मोदक नहीं , भारतमाता के रक्षक है..., सत्ता परिवर्तन (१९४७) से आज तक इस सख्स ने अपने बाहुबल से एक सुनामी लहर से वंशवाद , जातिवाद , भाषावाद को दरकिनार करते हुए एक राष्ट्रवादी लहर पैदा कर ...., भारतमाता को गर्वीत कर दिया है...
आज तक देश इंदिरा गांधी व राजीव गांधी के ह्त्या के बाद सहानुभूति लहर आयी थी ...

मोदी की यह लहर राष्ट्रवाद की अनुभूति की लहर है..., मोदी ने देशवासियों को एक बड़ा सन्देश दिया है ..., (मैं) अकेला क्या नहीं कर सकता हूँ ...

देशवासियों को सन्देश है की राष्ट्रवाद में १+१=११ , १+१+१ =१११ , १+१+१+१+१= १११११ , यदि देश की जनता राष्ट्रवादी बने तो हम विश्व में सिरमौर बनेगे... , हमारे १ रूपये की किमत १ डॉलर होगी , देश विश्व गुरू का तमगा पुन: हासिल करेगा.

मोदी ने तो, देशवासियों को कांग्रेस के पंजे से तो मुक्त कर दिया है..., लेकिन भारतीय जनता पार्टी के पांच अंगुलिया अपने अटपटे बयानों से अपने को चुनाव के पहिले ही सत्ता की कुर्सी में बैठे होने का आनन्द मान चुके है...., आज चुनाव प्रचार से गायब है..., अपने को सत्ता का मोदक समझ बैठें हैं...

मैं तो मोदी की प्रतिभा का कायल हूँ, लेकिन कहीं ये पांच उंगलिया ... मोदी के लिए पंजे की भूमिका में , मोदी को दबोचने का खेल न खेलें ....

आज देश १. वोट फॉर इंडिया, २. मोदी सरकार, इस बार, ३. वोट फॉर बी जे पी, तो अपने तीसरे चरण में है
विपक्षी दल भी मोदी का लोहा मान चुके है..., अपने अस्तित्व को बचाने की रणनीती बनाने के ताने बाने बुन रहें है...


इस लिंक पर click कर www.meradeshdoooba.com (a mirror of india) स्थापना २६ दिसम्बर २०११
कृपया वेबसाइट की ५९३  प्रवाष्ठियों की यात्रा करें व E MAIL द्वारा नई पोस्ट के लिए SUBSCRIBE करें - भ्रष्टाचारीयों के महाकुंभ की महान-डायरी