Saturday, 17 October 2015

रियल इस्टेट , खाद्यान बाजार , शेयर बाजार व अन्य सटोरियों के बाजार में २०० लाख करोड़ से अधिक का काला धन मौजूद है..., सरकार आँखें मूदे बैठी , विदेश से काले धन लाने का हुंकार भर रही है..




१. जवाहरलाल नेहरू के कपड़ों के घने काले दाग, उस समय में देशी साबुन से साफ़ न होने की वजह से धुलाने कपडे पेरिस जाते थे.., आज माफियाओं के काले नोट धुलने हांगकांग, मॉरिसस व अन्य देशों की सफेदी के स्वच्छ इंडिया से देश विदेशी हाथों से जकडते जा रहा है.

२. इस सफेदी की दाग धुलाने में बैंक ऑफ़ बड़ौदा.., सरपट दौड़ा ..., ६००० करोड़ रूपये के देशी कपड़ों को विदेश भेजकर, गरीबों के कपड़े उतरवाए..,


३. रियल इस्टेट , खाद्यान बाजार , शेयर बाजार व अन्य सटोरियों के बाजार में २०० लाख करोड़ से अधिक का काला धन मौजूद है..., सरकार आँखें मूदे बैठी , विदेश से काले धन लाने का हुंकार भर रही है..

४. जब तक कालेधन को राष्ट्रीय सम्पती से राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानूनन बनाया जाय तो यह सरकार का एक डफली बजाकर , जनता को बह्काने का खेल है.
.

५. देश का माफिया काले धन के पुलिंदों के गद्दे पर सोया है.., और हमारी सरकार विधव विश्व में ढिंढोरा पीट रही है.., कहावत है बच्चा पड़ोस में व ढिंढोरा शहर में .., लेकिन घर (देश) के काले माफियाओं के पास विदेश के बैंकों में जमा.., ७२ लाख करोड़ से 100 गुना से ज्यादा धन है 

६. मीडिया-माफिया-नौकरशाही-जजशाही के गठबंधन से राजशाही का महामंडन.., काले धन की बौछार से जीवन का उद्धार से देश के प्रत्येक गरीबों पर विश्व बैंक का ७५ हजार का कर्ज ... 

७. जमीनी हकीकत .., भूखा नंगा हिन्दुस्तान , महलों में रहने वाले बढ़ा रहे है इंडिया की शान, अच्छे दिनों से मेरा भारत महान , अब भी इंडिया शाईनिग से फील गुड फैक्टर के फील्डिंग से गरीबों की जा रही है जान ...

८. अस्पतालों में डॉक्टर व दवाएं नही , देश में झोला छाप डॉक्टर व शिक्षकों की बहार , मुर्दों को पेंशन.., यह है राजनीती का PASSION ...

९. मीडिया की TRP के बहार है..,राधे माँ के खबर से, व इंद्रायणी मुखर्जी की खबर को TRP की लहर बनाने के खेल में इस खबर के परतों से मुंबई के पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया के नार्को टेस्ट की घोषणा से मीडिया-माफिया-नौकरशाही-जजशाही की पोल खुलने व देश विदेश में काले धन का संगठित गिरोहों के गठबंधन के डर से पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया का तबादला कर इन खबरों को पर्दाफ़ाश करने के पहिले पर्दा डाल दिया है ..

१०. बिहार के चुनाव में गौ मांस के तड़के से, अब जनता के विकास व योजनाओं के मुद्दे गायब है.., एक माह तक मीडिया के पास में TRP का चटपटा मसला है.., यों कहें देश का दिवाला है...

११. दोस्तों..., सरकार दावा करती है कि देश में 100 करोड़ मोबाईल उपभोक्ता है .., यदि देशवासी अपने मोबाईल से.., मोहल्ले से शहर, नगर की घटनाओं व समस्याओं की फोटो व विडियो खीचकर अपने २४ खबरिया चैनलों से.., २४ घंटे प्रसारित कर, , देश में राष्ट्र की ज्वलंत समस्याओं का चित्रण कर, आज की वर्तमान पेट भरी मीडिया को ललकार कर देश में जागृती की लहर पैदा कर देंगी