Wednesday, 3 June 2015

ब्रिटिशों ने सत्ता परिवर्तन की शर्त पर.., कांग्रेस को “आरक्षण” से सत्ता दी, देश के प्रतिभाशाली क्रांतीकारियों को देशद्रोहीयों की काली सूची में डाल दिया.., सुभाष चन्द्र बोस की जिदा या मरी लाश लाने का भी सौदा कर गये.



1.   आरक्षण .., यह डूबते देश की कहानी है.., कहते है चु.XXXXXX..या...,   चला गया,  औलाद छोड़ गया ... १९४७ की नीती से मीडिया.., माफिया..सत्ताखोरों  ने इस देश की सत्ता को मेवा मानकर.., बंदरबाट से , महलों से अपनी मंजिल बड़ा रहें हैं
2.    ब्रिटिशों ने सत्ता परिवर्तन की शर्त पर.., कांग्रेस को “आरक्षण” से सत्ता दी, देश के प्रतिभाशाली  क्रांतीकारियों को देशद्रोहीयों की काली सूची में डाल दिया.., सुभाष चन्द्र  बोस की जिदा या मरी लाश लाने का भी सौदा कर गये.
3.    आजादी के झांसे से जनता को भरमाया गाया..., देश का वासी राष्ट्रवादी बनकर एक नए सांस से देश “आराम हराम” के नारे से  देश को गर्वित कर समर्पित भाव से सेवा के लिए तत्पर था
4.     लेकिन,सत्ता के अय्याशों ने साईकिल घोटाले के आयाम  से देश के जवानों की साईकिल चाल के कदम को भी बाँध दिया.., देश में नए,शिक्षा के संस्थानों बनाने के बजाय , दिल्ली में पांच सितारा होटल बनाकर, देश की शान बढ़ाने के दावे के दांव से अपनी सत्ता को जातिवाद के आरक्षण को  “हार की लड़ी”  बनाकर १० वर्षों तक आरक्षण का जाल फेंका ...
5.    आज इसे संवैधानिक हक़ बनाकर ५०% आरक्षण से सत्ता में साड्डा हक़ कह कर ., वोट की चोट से देश आहत है...
6.   अच्छे दिन की पहले से मौजूद मध्य प्रदेश सरकार ने, शिक्षा का व्यापारीकरण कर कर्णता  से “व्यापम घोटालों” से M.P.गजब है.., के विज्ञापनों से, प्रदेश की प्रतिभाओं को गायब कर दिया
7.   यह राष्ट्रीय  शर्म है कि मध्य प्रदेश सरकार के कार्यकाल में व्यापम घोटालामें शामिल..मुख्यमंत्री व उनके पिल्लू ने देश की मिट्टी पलीद कर दी है..., राज्यपाल “राम नरेश यादव” जो संविधान के मसीहा बने हैं. इस घोटाले ने राज्यपाल के पुत्र की आत्महत्या व ४० से ज्यादा लोगों की ह्त्या होने के बाद भी मध्य प्रदेश सरकार के GOVERNOR , आज भी गर्व-कर देश के संविधान को सुशोभित कर रहें हैं..
8.   राजस्थानसरकार  ने भी गुजर आरक्षण के सहमती से अपनी शान बढाने का, इस का दानव  बनकर,मानवता का  दांव किया है..
9.   महाराष्ट्र में ६ लाख फर्जी छात्रों के नाम से सत्ता के दर्जी .., बेशर्म.., बनकर देश की नई तस्वीर के कपड़े बनाने वालों ने, आज की उभरती  प्रतिभाओं .., यों कहें, प्रतिबन्ध लगाकर नंगा कर दिया है..
10.                    देश में निम्न / उच्च शिक्षा संस्था  का खेल  ५०% आरक्षण , ४०% धन बल से काले दानदाताओं के बच्चों को प्राथमिकता , १०% से भी कम देश के प्रतिभाशाली छात्र जिन्हें बिना धन के प्रवेश मिलता है..,वह देश के बेरंग शिक्षा व्यवसाय से लड़ने में असमर्थ पाकर विदेश में पलायन कर, विश्व के देशों को उन्नत बना रहा है...
दोस्तों डूबते देश को डूबाने वालों की लम्बी कहानी है..., सत्ताखोरों को, इन्ही  माफिया तंत्र ने कसीदे पढ़कर.., उन्हें मसीहा कहा है...,
डूबते देश में, इन  मसीहाओं को, माफियाओं  के समूह   कसाई बनकर, बेवफाई से देश को लूटकर डूबा  दिया है ..,
देश में घोटालों की बहार, बहारों फूल बरसाओं के नारों से.., विदेशी मह्बूब आया है, से .., मेरा भारत महान , शायनिंग  ,  भारत निर्माण से अच्छे दिनों से “अच्छी तारीफ” के अफीमी नारों से देश वासियों को ६६  सालों तक सुला कर रखा  है... (१९ महीने के “जय जवान –जय किसान के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के नारे को छोड़कर)

मेरे फेस बुक व वेबस्थल  का स्लोगन है   Let's not make a party but become part of the country. I'm made for the country and will not let the soil of the country be sold.