Videos

Loading...

Monday, 2 February 2015





क्या केजरीवाल पर, अब दिल्ली की जनता का DIRECT-ACTION होगा, ऑटो रिक्शा चालक लाली ने, केजरीवाल के गालों पर थप्पड़ों की लाली लगाते हुए कहा.., 
मैंने चार महीने अपना रोजगार छोड़कर, अपने परिवार को भूखा रख, “आप पार्टी” के उम्मीदवार को अपने क्षेत्र से जिताया....,और वह राजनैतिक आकांक्षा से कुर्सी छोड़कर, दिल्लीवासियों को मझधार में छोड़ गया.... 

और नौटंकीवाल ने अपनी राजनैतिक आकांक्षा को ऊंचे मुकाम के सपने से कुर्सी छोड़ कर भाग गया..., लाली के थप्पड़ के त्रिवता ने सुपर राकेट को भी मात दे दी, जो ईराक में पत्रकार जैदी के जोर्ज बुश को फ़ेके जूते से कई गुना ज्यादा थी..., और यह थप्पड़ , दुनिया के राजनेताओं को मारे गए थप्पड़ में एक विश्व कीर्तीमान है...

अब केजरीवाल जनता से कह रहें है,,,
फिसल गये तो हर-हर गंगे.., मुझे छोड़कर बाकी सभी हैं हमाम में नंगे., “आम आदमी” मुझे और मत .
दौड़ाओ , असल में खांसने की वजह से आपके वादे पूरे नहीं कर सका .., “मखमली सत्ता” के लिए, मैंने तो.., “मफलर” भी पहनी, अब मुझे “भागम मंत्री” मत कहों.., दुबारा मुझे मौक़ा दो.., अब मैं जनता का खटमली नहीं बनूंगा...
केजरीवाल यह राजनीती है..., आपके IIT की तरह है, गलत काम करने पर, इस राजनीती में , यहाँ भी आपकी MINUS MARKING होगी ...

इसलिए राष्ट्रवाद के पेन से, आप परिक्षा दोगे तो, पास हो जाओगे , यदि इस पेन से आप धर्मवाद , जातिवाद , व आतंकवादियों की सहानूभूति व राष्ट्रीय सुरक्षा को नजर अंदाज कर, काश्मीर को देश से अलग करने का,नेहरू से आज तक के कांग्रेसी नताओं की तरह उत्तर लिखोगे तो...,

कांग्रेस, जो, ६८ सालों के बाद,..., धर्मवाद , जातिवाद , व आतंकवादियों की सहानूभूति के रेस से अब, तो लुप्त हो रही है ... उसका अनुसरण कर, दिल्ली में भीगी बिल्ली बनकर “आप”, आम आदमी के लिए खिल्ली बन गये हो.....

यह पब्लिक है सब जानती है, अंदर कितना खाया है..?? बाहर कितना विकास का दिखावा है... और देश का कितना भट्टा बिठाया है... दोस्तों क्या ये भ्रष्टाचार के विकास के नाम पर आम आदमी का नाश...???
जागो देशवासियों...हम तो धर्म के खेल के, ... सिर्फ मोहरे हैं ...
इनके लिए, तुम / हम तो.., पाँच साल के लिए... रोते हुये चेहरे हो ...???? इसलिय राममनोहर लोहिया की वाणी आज भी सार्थक है , कि, जिंदा कौमे पाँच साल का इंतजार नही करती है....??? इससे मुक्ति चाहिए तो....????, चलो राष्ट्रवाद की ओर ....
धर्म, जातिवाद , अलगाववाद, घुसपैठ इन सत्ता धारियों के लिए एक शराब है...? और देश लूटने का ख्वाब है…??? दिन मे संसद की कारवाई बहस से स्थगित करा... देश को बेबस बनाओ ....दिन मे लूट और रात मे, घुसपैठेयों के लिए सीमाए खोलकर , वोट बैक का जश्न मनाओ का खेल है ...????
कैलाश तिवारी meradeshdoooba .com से, कृपया वेबसाइट की यात्रा करें व E MAIL द्वारा नई पोस्ट के लिए SUBSCRIBE करें - भ्रष्टाचारीयों के महाकुंभ की महान-डायरीआम आदमी अभी मुझे और मत दौडाओं..??? , असल में खांसने की वजह से आपके वादे पूरे नहीं कर सका , क्या करूं मखमली सत्ता के लिए मैंने मफलर भी पहनी, अब मुझे प्रधानमंत्री बनाओं तो आपको अन्य पार्टियों के वादे से कई गुना ज्यादा मखमली जीवन दूंगा , मैं तो आम आदमी का कसीदा हूँ, घुसपैठीयों का मसीहा हूँ , इसलिय तो कह रहा हूँ ... मेरी सत्ता आयी तो कश्मीरीयों को अलग कर पाकिस्तानी आतंकवादियों के साये से नया जीवन दूंगा, नक्सलवादियों के वादियों में एक नया खूनी रंग भर दूंगा और भारतमाता के सिंदूर में भर दूंगा.....
केजरीवाल अब केटलीवाल (चाय वाला) मोदी को चुनौती देंगे...????,
जनवरी ३, २०१४ की पोस्ट जो वेबसाईट व फेस बुक की सार्थक हुई है....
केजरीवाल यह राजनीती है..., आपके IIT की तरह है, गलत काम करने पर, इस राजनीती में , यहाँ भी आपकी MINUS MARKING होगी ... इसलिए राष्ट्रवाद के पेन से आप परिक्षा दोगे तो पास हो जाओगे , यदि इस पेन से आप धर्मवाद , जातिवाद , व आतंकवादियों की सहानूभूति व राष्ट्रीय सुरक्षा को नजर अंदाज कर, काश्मीर को देश से अलग करने का,नेहरू से आज तक के कांग्रेसी नताओं की तरह उत्तर लिखोगे तो..., कांग्रेस, जो, ६६ सालों के बाद,..., धर्मवाद , जातिवाद , व आतंकवादियों की सहानूभूति के रेस से अब, तो लुप्त हो रही है ... उसका अनुसरण कर, दिल्ली में भीगी बिल्ली बनकर “आप”, आम आदमी के लिए खिल्ली न बन जाओं