Videos

Loading...

Tuesday, 29 April 2014



मोदी की दहाड़ ही घोषणा पत्र है....
कांग्रेस की माँ बेटे घोटाले छुपाने के लिए घोषणा पत्र को दूर रख..., खानदान की बलिदानी कहानी सुना रहें हैं , 
आज तक किसी भी पार्टी के घोषणा पत्र का प्रारूप तो सत्ता को धर्मवाद,जातिवाद,भाषावाद. अलगाववाद के सट्टे से जीतने के बाद कूड़ेदान में फेंक दिया जाता है..., अफीमी नारों से “आम आदमी” के नारे के हाथ से लूट कर खोखला कर “भारत निर्माण “ के नारों से... पुन; सत्ता के खेल का दौर शुरू हो गया है....,
नरेंद्र मोदी के १५० से अधिक चुनावी जनसभाओं में उनका राष्ट्रवादी .., मौखिक घोषणा पत्र को जनता में विस्तार से समझाकर, बताकर ... इस घोषणा पत्र का प्रारूप निरक्षर मतदाताओं को भी समझ में आने से देश में मोदी की सुनामी लहर चल पडी है,..., इस सुनामी जोश से विपक्ष के दांवों को भी बहा दिया है ...
दुनिया से लेकर दुश्मन देश भी असमंजस में हैं....