Videos

Loading...

Friday, 27 December 2013



जाने..., पिछले १० सालों की सत्ताखोरों की भ्रष्टाचार से मस्ती की पाठशाला ..
About - Deshdoooba Community के फेस बुक का शीर्षक -
Let's not make a party but become part of the country. I'm made for the country and will not let the soil of the country be sold.
Description
आओं, पार्टी नहीं देश का पार्ट बने, “मैं देश के लिए बना हूँ””, देश की माटी बिकने नहीं दूंगा , “राष्ट्रवाद की खाद” से भारतमाता के वैभव से, हम देश को गौरव से भव्यशाली बनाएं ..
अब कार्टून में बनाए गए.., किरदार..बन गए है बेरोजगार से बेकार..,

यह है एक व्यक्तित्व..राष्ट्र के तत्व मोदी का जज्बा , जिससे हर पार्टी से विश्व के माफिया,भेदिया,दुश्मन देश भी है..,हक्का बक्का.., अब इस खेल से हमारा बंद हो गया है हुक्का – पानी ..., वे भी शर्म से हो गए हैं.., पानी-पानी ...!!!!

यदि आप सोचते है कि भगत सिंह मेरे पड़ोस मे पैदा हो.... , तो देश की मुर्दानगी, जिन्दादिली में नहीं बदलेगी ..भ्रष्ट्राचार की नंगई से सत्ताखोर सदाबहार रहेंगे...

यदि आप मोदी की तरह सोचें तो .. आप भी देश के प्रधान सेवक का तत्व पा सकते हैं..

(a) अगर सरदार भगत सिह को तुम कब्र से उठाओं तो तुम उसे दुखी पाओगे, क्योंकि जिस आजादी के लिए बेचारे ने जान गवाई , वह आजादी दो कौड़ी की साबित हुई , तुम शहीदों को उठाओं कब्रों से और “पूछों”. क्या इसी आजादी के लिए तुम मरे थे , इतने प्रसन्न हुए थे ...??, इन राजनीतिज्ञों के हाथ में ताकत देने के लिए तुमने कुरबानी दी थी ..?????, तो भगत सिह छाती पीट-पीट कर रोयेगा कि हमें क्या पता था , जिंदगी का..., गांधी तो ज़िंदा थे – आजादी आई और आजादी आने के बाद गांधी छाती पीटने लगे थे , गांधी बार-बार कहते थे मेरी कोई सुनता नहीं , मैं खोटा सिक्का हो गया हूँ , मेरा कोई चलन नही है गांधी दुखी है, गांधी सोचते थे : एक सौ पच्चीस साल जीऊंगा , लेकिन आजादी के नौ महीने बाद उन्होंने कहा अब मेरी एक सौ पच्चीस साल जीने की कोइ इच्छा नहीं है , यह बड़ी हैरानी की बात है , शहीदों की चिताओं पर भले मेले भर रहे हों , लेकिन शहीदों के चिताओं के भीतर आंसू बह रहें हैं

(b) देश के शहीदो के अपमान से बने , गाँधी के नाम से, नेता, अपनी नंगई से बनें बेईमान, सत्ता को सट्टा के नाम से देश को भ्रष्टाचार से खोखला कर दिया, आज भी हमारे क्रंतिकारी शहीद भगतसिग, सुभाषचन्द्र बोस , चन्द्रशेखर से वीर सावरकर को भी देश्द्रोहीयों की काली सूची मे है...आज शहीदो के चिताओ पर राजनेता अपनी भ्रष्टाचार की, रोटी सेंककर, अपने को शहीदों से महान बनाने की हौड मे है.. देश का शहद चाटकर , आज देश के गली , मुहल्ले ,नगर , शहर, शिक्षा व अन्य संस्थानों पर ऐसे करोड़ों नाम हैं...,जिसे अपने नाम कर लिए है...??

१. कांग्रेस के घोटाले का महापुरूष , चाटुकार, सोनिया गांधी को भारतमाता कहने वाले सलमान खान के कांग्रेस के मीठे प्रवचन ... जो सोनिया को भ्रष्टाचार से अपनी सता को सलामत मान (सलमान) कर खुशी की ईद (खुर्शीद) मना रहा था ...और नरेद्र मोदी को नपुंसक कह कर सत्ता का सुख के भोग का आनन्द ले रहा था
२. विदेश मंत्री “विकलांग खुर्शीद सलमान’ जो देश के विकलांगो की लूट मे छूट की वीरता से … विदेश मंत्री बना… ने देश की अस्मिता को ताक में रखकर …चीन की भव्यता को देखकर , चीनी सरकार को अपना बाप मानकर बयान दिया …., “...यदि मुझे चीन की नागरिकता मिले तो, मैं … चीन में ही रहना पसंद करूंगा मैं चीन के विकास से बहुत ही प्रभावित हुआ हूँ ....”
३. वही अभी अपने दम-खंभ से चुने प्रधानमंत्री ने तो प्रतिज्ञा की है कि मैं चीन से बेहतर हिन्दुस्तान बनाऊंगा
४. पुतले प्रधानमंत्री ने तो १५ अगस्त को लाल किले से जनता का उपहास उड़ाते हुए , कहा था हमारे पास जादुई छडी नहीं है .. कि महंगाई दूर हो जायेगी , असल में आपने यह जादुई छड़ी देश व विदेश के माफियाओं कों .., जनता को मारने के लिए दे दी है...अब जनता ने अपनी जादूई छडी मारकर होश उड़ा दिए हैं
५. यह कांग्रेस की १० सालों के भ्रष्टाचार की उद्द्दंडता के कर्मों के बयान की दास्तां है..., भ्रष्टाचार से पेट में घुसी गैस जो नीचे से निकालनी चाहिए थी, वह बेतुके बयानों से बाहर निकलकर , इस देश में जातिवाद, भाषावाद, धर्मवाद, अलगाववाद व घुसपैठीयों के वोट बैंक से देश में १०० सालों तक का कांग्रेस का एक छत्र राज करने का, जो, सपना देख रहें थे..., चकनाचूर कर दिया .....,
१.नेशनल हेराल्ड, जो कांग्रेस की सम्पत्ती थी , उसे नेहरू की नीजी संपत्ती मानकर, देश के यंग इंडिया, राहुल गांधी , व सलमान खुर्शीद की भारत माता ने ९० करोड़ के, चुनावी चंदे से,अवैध तरीके से ,आर्थिक सहायता देकर, बाद में कंपनी को डूबा दिखाकर, नेशनल हेराल्ड को A.J.L. कंपनी से ५० लाख में खरीद कर २००० करोड़ की रकम इटली के वंशजों ने कमाई ,
(१ अ) .., लेकिन कांग्रेस ने देशी , विदेशी माफियाओं से १० साल के घोटालों को “भारत निर्माण” के नारे से भरमाकर १० सालों में १०० लाख करोड़ की सम्पती, “भ्रष्टाचार निर्माण” से डकार ली...
६. सुशील कुमार शिंदे ने बिजली मंत्री के पद में आसीन रहते हुए, आधे देश की बिजली गायब करने के बाद , गृह मंत्री पद की पदोन्नती पाकर , पुणे की सभा में बयान दिया कि, “देश की जनता तो भेड़ है.., बोफोर्स घोटाले की तरह हमारे १० साल के विशाल मल्टी फोसे को भी भूल जायेगी..,” लोकसभा चुनाव में जनता के फ़ोर्स का गोला मुंह में घुसने के बाद भी बयान दे रहें है की मैं हारा जरूर ..., लेकिन मेरी जमानत बचने पर मुझे गर्व है,

७. देश की सांस्कृतिक धरोहर रामसेतु का व्यापारिकरण से तोड़ने के लिए मनमोहन सरकार ने सुप्रीप कोर्ट में हलफनामा देते हुए कहा की राम व सेतु एक कोरी कल्पना हैं.., राम का कोई अस्तित्व नहीं था

८. कोयले की दलाली के काले रंग में रंगने व लिप्त होकर श्रीप्रकाश जायसवाल को अपनी बीबी भी काली दिखने लग गयी , तो वे, बयान देकर कहने लगे नई बीबी व नई शादी का मजा कुछ और ही होता है...
९. तुष्टीकरण की आड़ में अल्पसंख्यकों को धर्म के नाम से.., गरीबी से मारने के लिए साम्प्रयदायिक बिल से लुभाने की कोशिश की गयी, इसका जवाब इस चुनाव में जनता ने , हिंदु मुस्लिम एकता से कड़ाई से जवाब देकर कांग्रेस का सूपड़ा साफ़ कर दिया

१०. कपिल सिब्बल की पत्नी प्रोमिला सिब्बल के नाम से एशिया के सबसे बड़े कत्लखाने का निर्माण कर , जैन धर्म का उपहास उड़ाने के लिए,“अरिहंत एक्सपोर्ट “का नाम रख कर , विशेष रियायात पाकर, देश के पशु धन की हानि से देश के दूध मुंहे बच्चों को मरहूम रखकर , इस विदेशी मुद्रा के खेल को सभी धर्मों के लोगों ने प्रतिरोध कर चांदनी चौक से कपिल सिब्बल को हराकर , इन दिन के लुटेरों, दिन में ही चाँद दिखा दिया

११. और तो और मंद्बुद्धी ..., मौन मोहन के बयान ..., देश के सभी संसाधनों पर मुस्लिमों का पहला अधिकार है..., भरमाकर, मुस्लिमों की १ लाख करोड़ की विकास नीधी का धन डकार लिया ..., जिसका जवाब , मुस्लिमों ने कांग्रेस की तुष्टीकरण की नीती का सूपड़ा साफ़ कर के ही दम लिया ....