Videos

Loading...

Sunday, 4 August 2013




मै…., मेरा हिंन्दुस्थान लूटने नही दूँगी….?? दुर्गा देवी तुम…महान हो … बुझे दिल सत्ताखोरों के टुकड़ो मे पलने वाले नौकरशाही को तमाचा हो…????
यह कार्टून दुर्गा शक्ति को समर्पित है…. , जो माफियाओ के लिए काली देवी बनकर, देश की लक्ष्मी बाई बनकर, माफियाओ व सत्ताखोरों को हूँकार दे कर कह रही है… मै…., मेरा हिंन्दुस्थान लूटने नही दूँगी…?????
और आज के नौकरासाह, जो मुर्गा बनकर , माफियाओ व सत्ताखोरों की आवाज़ मे कूकड़ू – कू …. की आवाज़ मे , देश के लूटेरो के दानो पर पल रहे है….???? उनके लिए यह, एक तमाचा है….???? जिनके जूते तले दबकर, नौक्रर-साही , सत्ताखोरों को झूला, झूला रही है….
इस कार्टून मे आज के टॉप 5 जमाई है…इनमे से कानीमोझी जेल से छूटने के बाद, राज्यसभा की सदस्य बन गई, पवन बंसल चैन की बंसी बजा रहे है, राजा तो अब भी राजा बने है, कलमाड़ी का रूतबा , और मजबूत हुआ है, जेल से छूटने के बाद , बैड, बाजा , बाराती के साथ “भारतमाता की जय” के उद्घोष के साथ ,महाराष्ट्र के पुना मे, इस भ्रष्टाचार के दूल्हे का जश्न के साथ स्वागत हुआ…??? वाड्रा तो देश का राष्ट्रीय जमाई होने से, अभी भी भ्रष्टाचार का मनी मून मना रहा है। व अशोक खेमका का तबादला करा कर, प्रशासन को ठेंगा दिखा रहा है…????
आओ हम भी दुर्गा शक्ति से प्रेरणा लेकर ,हम, प्रतिज्ञा करे…. हम अपना हिंन्दुस्थान , देशी व विदेशी माफियाओ व सत्ताखोरों के हाथ लूटने नही देंगे …???।
मेरी श्रदांजली , उत्तरप्रदेश के जिया उल हक, महाराष्ट्र के सोनावणे व मध्य प्रदेश के आईपी एस आधिकारी नरेन्द्र जी को है ….. जिन्होने,, माफियाओ व सत्ताखोरों की परवाह न करते हुए अपना बलिदान दिया है…
आओ एक संकल्प ले , अब हम इन घटनाओ के देखकर, जमहाई व अंगड़ाई नही लेंगे , और देश के माफियाओ व सत्ताखोरों को देश का जमाई बनने नही देंगे …..
मेरे वेबस्थल के अंश पुन: लिखा रहा हूँ… जागे हुए लोगों से कहता हूँ जमहाई लेते हैं । सोते हुए लोगों से कहता,हूँ….अंगड़ाई लेतेहैं। कब्र के मुर्दे से कहा, मै कुछ….कह पाता,मुझे…भ्रष्टाचार॰का इंजेक्शन लग चुका था…. उसने….मुझसे कहा…,आप देश द्रोही बनकर, देश के लिये पागल होकर,,कुछ तो कहो ताकी मेरी मजार पर आदर्श,नेताओ,माफियाओं की मंजिल न बन सके।
यदि जनता जमहाई लेते रहेगी तो ….????, हर दिन देश के हजारो ,नये लूटेरे, जमाई बनकर देश को लूटते रहेंगे….पिछला उदाहरण 2जी से , जनता के कॉमन वेल्थ से, कोयले से मुँह काला कर , खान , खदान, ईमान बेचकर भी, इनके चेहरे की, चमक बढ़ते ही जा रही है है…???, उपर से, ये,और विपक्षी दल भी इसमे सम्मलित होकर अपने को आर टी आई के दायरे मे न लाने का कानून बना रहे है … जनता को एक खुली चेतावनी देकर कह रहे है, रोक सके तो रोकों …..???????
जागो…..?? जागो…..??? जागो…..???? ….. देशवासियो अब जमहाई लेने का समय नही है….??????????????????