Thursday, 15 August 2013



वाह रे पृथ्वीराज चौहान की महाराष्ट्र सरकार…??? , मोटी सरकारी वेतन लेने वाले मंत्रालय के कर्मचारियो को मजे का तोहफा , सरकारी समय मे फेस बुक देखो...? और जनता अपनी समस्याओ के लिये इन कर्मचारियो की फेस देखने मे अपने समय की बरबादी करे ..??? दोस्तो .. क्या यही है...काँग्रेस का...???, भारत निर्माण के साथ सरकारी कर्मचारियो के कर्मो का गुणगान...??? या मेरा देश डूबा - meradeshdoooba.com

  • Deshdoooba Community अन्य प्रदेशो के सरकारी के सरकारी कर्मेचारी लगाओ गुहार... एह नय संविधान संशोधन के लिये , हमे फेस बुक देखने का कानूनी अधिकार मिले... वह भी रोजाना ..पुरी तंनख्वाह (पगार) के साथ...ताकि हमारे ख्वाब भी पूरी तरह दिखे ...मंत्रालय को मुत्रालय की गन्ध से भी ज्यादा, बदबूदार बनाओ.....ऐसे भी मुम्बई का मंत्रालय को रिश्वत का मुत्रालय बनने से रिश्वत के के कागज जलाकर मंत्रालय की दुर्गन्ध दूर की गई थी.