Sunday, 5 May 2013



सत्ताखोरो ने आम आदमी के हाथ के नाम पर भ्रष्टाचार एक्सप्रेस्, को शताब्दी मेल से भी तेज दौड रहे है...हर स्टेशन पार करने पर एक –एक नया घोटाला बढते जाता है, अभी एक स्टेशन पार करने पर 2300 करोड के घोटाले की आशंका है... भाँजा सिंगला , मामू बँसल का पी.ए बनकर, देश मे कंस-ल की भूमिका निभा रहे है, देश के निअपराध गरीबों को गरीबी के हैजा से मार रहे है..??? मामा से ज्यादा भाँजा मालामाल... 100 एकड जमीन, भावी आवासीय योजना हाल मे ही खरीदी है... एक वाड्रा और तैयार हो रहा है, सिंगला ने भारतीय रेल को बना दिया है कंगला... सिगला बनाम कंगला और बंसल बनाम कंस-ल
दोस्तो क्या, यह मेरा देश को सताखोर कंसो ने लूटा या डूबा -